Face Tips: अगर आंखों के नीचे काले घेरे दिखने लगें या चेहरे पर बाल दिखने लगें तो सावधान हो जाएं।

Face Tips:

शारीरिक स्थिति को समझने के लिए सिर्फ चेहरा ही काफी है। शरीर की कई बीमारियाँ और कुपोषण चेहरे पर ही नजर आते हैं। हालांकि, लोग अक्सर इसके साथ खिलवाड़ करते हैं, जिसका असर उनकी सेहत पर पड़ सकता है। इससे किसी भी बीमारी का पता जल्दी चल जाता है और इलाज भी जल्दी हो जाता है। अगर सही समय पर बीमारी का पता चल जाए तो इसका इलाज तुरंत किया जा सकता है। इसलिए अगर चेहरे पर ऐसे लक्षण दिखें तो तुरंत सतर्क हो जाना चाहिए।

आंखों के नीचे काले घेरे

अगर किसी व्यक्ति की आंखों के नीचे काले घेरे हैं तो सावधान हो जाएं क्योंकि इससे कई परेशानियां हो सकती हैं। यह इंसुलिन प्रतिरोध की समस्या भी हो सकती है। इससे बचने के लिए इंसुलिन के स्तर की जांच करानी चाहिए। इसके साथ ही खान-पान और जीवनशैली में भी सुधार करना जरूरी होगा।

दरिद्रता

अगर बाल अचानक झड़ जाएं तो गंजेपन की समस्या हो सकती है। याद रखें, यह केवल आनुवंशिक या बालों की समस्या है। यदि आपके बाल या गंजापन है तो रक्त परीक्षण करवाएं। गंजेपन का कारण अधिक DHT है। ऐसे में कद्दू के बीज, ग्रीन टी और जिंक युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए। इससे अतिरिक्त डीएचटी की समस्या दूर हो जाती है और गंजेपन से बचाव होता है।

भौंहों के बाल झड़ना

अगर आइब्रो के बाल झड़ते हैं तो इसे बिल्कुल भी न भूलें, क्योंकि ऐसा आयोडीन की कमी के कारण होता है। आयोडीन के स्तर की जांच के लिए मूत्र परीक्षण कराएं। आयोडीन युक्त नमक, ग्रिल्ड मछली, झींगा, टूना और अंडे खाएं। इससे आयोडीन की कमी दूर हो जाती है और समस्या दूर हो जाती है।

चेहरे के बाल

जब किसी महिला के चेहरे पर बाल उगने लगते हैं तो इसे पीसीओएस का लक्षण माना जाता है। शरीर में एण्ड्रोजन हार्मोन के बढ़ने के कारण भी कुछ लड़कियों को चेहरे पर बालों की समस्या होती है। चेहरे के बालों की समस्या को दूर करने के लिए व्रत रखा जाता है। विशेषज्ञों के मुताबिक, अगर शरीर का वजन केवल 5 प्रतिशत भी कम कर लिया जाए तो एण्ड्रोजन का स्तर कम हो सकता है और चेहरे पर बाल आना भी बंद हो सकते हैं। इसके साथ ही चीनी खाना भी बंद कर दें।

Leave a comment